Cryptocurrency kya hai Hindi me bataye

Cryptocurrency वर्तमान समय का ऐसा चर्चा का विषय बना हुआ है जिसके बारे में जानने के लिए हर कोई उत्सुक है | दुनिया के सभी देशों में इसे अपार लोकप्रियता हासिल हुई है | जिसका मूल कारण है इसकी निजता | यानी कि इसे किसी भी देश का कोई भी नागरिक बिना किसी रोक-टोक के आसानी से खरीद और बेच सकता है |

Cryptocurrency में निवेश करके बहुत से लोगों से मुनाफा कमाया है | क्या आप भी कमाना चाहते हैं? यदि हाँ तो बने रहिए इस post पर | इस post में आपको क्रिप्टो करेंसी के बारे में हर वह जानकारी दी जाएगी जो इसमें निवेश करने से पहले जानना ज़रूरी है |

बहुत से ऐसे platform हैं जहाँ से आप cryptocurrency को खरीद या बेच सकते हैं | सबसे अच्छी बात तो ये है कि ये platform 24×7 खुले रहते हैं | आप जब चाहें इनका प्रयोग कर सकते हैं | इस article के माध्यम से आज हम जानेंगे कि cryptocurrency के फायदे और नुकसान क्या-क्या हैं? कौन सी digital currency सबसे ज्यादा trend कर रही है? और कौन-कौन से platform से क्रिप्टो करेंसी में trade किया जा सकता है?

जैसे ही हम cryptocurrency शब्द सुनते हैं हमारे दिमाग में एक ही नाम सबसे पहले आता है- Bitcoin | हालांकि ये सबसे पहली cryptocurrency है, लेकिन वर्तमान समय में 1800 से भी ज्यादा ऐसी क्रिप्टो करेंसी है जो Bitcoin में समक्ष खड़ी है और काफी popular भी हो रही हैं | इसलिए आज हम कुछ मुख्य क्रिप्टो करेंसी के बारे में भी बात करने वाले हैं | तो चलिए शुरू करते हैं-

Advertisement

Cryptocurrency kya hai in Hindi

Content in One View

दरअसल Cryptocurrency लैटिन भाषा का शब्द है | जिसका अर्थ है छिपी हुई करेंसी | Crypto लैटिन भाषा के cryptography से लिया गया है जिसका मतलब है- छुपा हुआ | और currency को भी लैटिन भाषा के currentia शब्द से लिया गया है जिसका अर्थ है मुद्रा या रुपया –पैसा |

आपके खाते में जो बैलेंस आप देखते हैं वह digital amount है जिसे आप देख सकते है रख सकते है और ज़रुरत पड़ने पर खाते से निकाल पर छू सकते है और वस्तुएं खरीद सकते हैं |

Cryptocurrency भी ऐसी ही है | बस आप इसे निकाल नही सकते और ना ही भौतिक रूप से इसे छू सकते है लेकिन आप इसका उपयोग digital लेन-देन के लिए कर सकते हैं | इसे आप किसी भी देश भी मुद्रा में exchange करके खर्च कर सकते हैं | क्रिप्टो करेंसी का उपयोग Online shopping, Online payments, Fund transfer आदि में आसानी से कर सकते हैं |

Cryptocurrency किस देश की मुद्रा है?

Cryptocurrency पर किसी एक देश का एकाधिकार नही है | यह किसी एक देश की मुद्रा नही है और यह सबकी है इसे कोई भी खरीद या बेच सकता है | इस पर किसी भी देश का कोई प्रतिबन्ध नही है और ना ही किसी देश ने इस पर अभी तक कोई प्रतिबन्ध लगाया है | इसलिए यह सबकी है और किसी की भी नही है, दोनों ही बातें हैं |

Currency क्या होती है?

Currency का मतलब है वह धन-व्यवस्था जो किसी देश के लिए legal हो, जिसे छुआ जा सके, जिसे भौतिक रूप में अपने पास रखा जा सके | वह मुद्रा जो सिक्कों या कागज़ पर छपी हो | जिसे देखा जा सके | जिसके उपयोग से वस्तुओं या सेवाओं को ख़रीदा या बेचा जा सके | वह उस देश की currency कहलाती है |

Cryptocurrency का इतिहास | History of Cryptocurrency

World की सबसे पहली क्रिप्टो करेंसी को सतोशी नाकामोतो द्वारा सन 2009 में बनाया गया था | इस currency का नाम था Bitcoin | शुरू से ही यह currency नंबर 1 पर बनी हुई है | ये और बात है कि पिछले कुछ महीनो में इसमें काफी उतार-चढाव देखने को मिला है |

Digital currency के विशेषज्ञ क्षितिज पुरोहित कहते हैं कि Cryptocurrency को 2009 में नही बल्कि इससे पहले भी इसे कई देशों ने चलन में लाने का प्रयास किया था |

1996 में USA में एक Electronic Gold को बनाया गया था जिसे भौतिक रूप से रखा नही जा सकता था, लेकिन इससे चीजें ख़रीदे जा सकती थी | …’’

Cryptocurrency के फ़ायदे क्या हैं?

दोस्तों हर अविष्कार के साथ सभी अच्छी और बुरी चीज़ें जुडी रहती हैं | जिस प्रकार एक सिक्के के दो पहलू होते हैं उसी प्रकार Cryptocurrency के साथ भी ऐसा ही है इसके भी फ़ायदे और नुकसान दोनों ही हैं | इसलिए हमें दोनों पक्षों को समझने के बाद ही Cryptocurrency में invest करना चाहिए | वैसे इंसानी फितरत ये होती है कि जहाँ उसे फायदा ज्यादा दिखाई देता है वहीँ ज्यादा रुचि लेता है | भले ही थोडा-बहुत नुकसान ही क्यों ना उठाना पड़े | आइये एक नज़र क्रिप्टो करेंसी में invest करने के फ़ायदे पर भी डालते हैं |

Secure Digital Currency

Cryptocurrency एक digital currency होने के कारण बहुत सुरक्षित जिसे चोरी करना इतना आसान नही होता कि कोई भी चुरा ले | digital currency की trading करते समय कई प्रकार की वेरिफिकेशन से जुज़रना पड़ता है जो इसे secure बनाने में सहायक सिद्ध होते हैं |

Beyond Demonetization

Cryptocurrency का दूसरा सबसे बड़ा फायदा ये भी है कि इस पर demonetization और devaluation का कोई असर नही पड़ता | क्योंकि उह किसी एक देश की currency नही है और न ही यह किसी एक संस्था के अधिकार में है | इसलिए नोटबंदी जैसी आर्थिक समस्याओं का इस पर कोई फर्क नही पड़ता | आप नोटबंदी के समय में भी इससे खरीद फरोख्त कर सकते हैं |

Instant Profit

क्रिप्टो करेंसी में invest करने का तीसरा फायदा ये है कि इसमें अचानक बहुत बड़ी मात्रा में मुनाफा देखने को मिलता है | कई बार निवेशक अचानक से अमीर हो जाते हैं |

Cryptocurrency के नुकसान क्या-क्या है?

जहाँ एक और Cryptocurrency के फ़ायदे है वहीँ ढेरों नुक्सान भी हैं | कुछ मुख्य हानियाँ नीचे बताई जा रही हैं जिनके बारे में पहले से पता होना चाहिए | नुकसान पहले से पता होंगे तो क्रिप्टो करेंसी में निवेश करने में आसानी होगी |

Virtual currency

Cryptocurrency का अपना कोई अस्तित्व नही है इसे आप digitally देख सकते हैं, trade कर सकते हैं लेकिन छू नही सकते | यह न तो सिक्कों के रूप में है और न ही कागज़ के नोटों के रूप में |

Decentralize currency

इस पर किसी भी देश या सरकार का मालिकाना हक नही है | अगर आप इसमें निवेश करके नुकसान उठाते है तो आप कहीं भी शिकायत दर्ज नही करा सकते | इसमें सारा जोखिम निवेश करने वाले का होता है |

Fluctuate currency

Cryptocurrency बहुत ही अस्थिर है | कभी इसकी value आसमान छूने लगती है तो कभी इसमें भरी गिरावट भी देखने को मिलती है | कभी-कभी निवेशकों को भरी मात्रा में नुकसान भी उठाना पड़ता है |

Illegal Exchange

Cryptocurrency की बढती demand और इसके decentralize होने के कारण इसका दुरूपयोग होना शुरू हो गया है | इसका प्रयोग आजकल हथियार खरीदने, Drugs खरीदने- बेचने, और smuggling में बहुतायत हो रहा है | Dark web पर आजकल क्रिप्टो करेंसी के द्वारा बहुत सी चीजें exchange हो रही हैं, जो पूरी तरह से illegal हैं और मानव जीवन के लिए एक खतरा हैं |

Insecure Digital Currency

जैसा कि सबको पता है कि ये एक virtual currency जो digitally online रहती है | इसलिए इसके हैक होने का खतरा बना रहता है | हालाँकि इसको एक block-chain system के ज़रिये secure और monitor किया जाता है | फिर भी है तो ये एक digital currency ही | इसलिए इसमें बहुत सावधानी से invest करना चाहिए |

Non-reversible

Cryptocurrency पूरी तरह से Non-reversible currency है | यानि कि यदि आप गलती से कोई ग़लत transaction कर देते हैं तो इसे आप reverse नही कर सकते और ना ही इसके बारे में कोई complaint दर्ज करा सकते हैं | एक बार आपका पैसा गया तो गया, इसे वापस नही मंगाया जा सकता |

Cryptocurrency कैसे काम करती है?

Cryptocurrency में सभी प्रकार के लेन-देन का रख-रखाव के लिए block-chain प्रणाली को इस्तेमाल किया जाता है | सभी digital currency encrypted यानि कि coded होती हैं | सभी digital currency को computer network की मदद से नियंत्रित किया जाता है |

सभी प्रकार की खरीद-फरोख्त के लिए digital signature द्वारा verify किया जाता है | Block-chain  में क्रिप्टो करेंसी का पूरा रिकॉर्ड रखा जा सके इसके लिए Cryptography Technology का इस्तेमाल किया जाता है |

Cryptocurrency कैसे खरीदें?

Cryptocurrency को खरीदने और बेचने के लिए बहुत से platform उपलब्ध किये गए हैं जिनमे से आप किसी भी एक platform को चुनकर क्रिप्टो करेंसी खरीद सकते हैं | दुनिया भर में बहुत से cryptocurrency exchange हैं जो इसमें हमारी मदद करते हैं जैसे-

  • Binance
  • Coinbase
  • Bitfinex
  • Kraken
  • Cucoin
  • Bithumb
  • Bittrex
  • CoinOne
  • Coincheck

इनके अलावा India के अपने Crypto exchange भी हैं जो भारत जैसे विशाल देश में service provide कराते हैं |

Indian Crypto Exchange Market कौन से हैं?

पिछले कुछ महीनो में India में Cryptocurrency को लेकर काफी उत्सुकता देखने को मिली है | जिसने भी इसके बारे में सुना, उसने इसे खरीदने का प्रयास ज़रूर किया | आइये उन Indian Crypto Exchange के बारे में जानना शुरू करते हैं जिनके द्वारा Bitcoin, Etherium, Tether, DogeCoin आदि में invest किया जा सकता है |

  • CoinSwitch
  • Coin DCX
  • WazirX
  • Zebpay
  • Coinswitch Kuber

भारत का Coinswitch Kuber ऐसा platform है जिसकी अपनी ख़ुद की 5 क्रिप्टो करेंसी है | इनके नाम इस प्रकार हैं-

Mana, Sand, Gala, REQ, Coti

क्या Cryptocurrency को चुराया जा सकता है ?

क्योंकि यह एक Digital Currency है जो block-chain algorithm पर काम करती है | फिर भी कुछ hackers दिन रात इसी कोशिश के लगे रहते हैं कि इसे चुरा सकें | ऐसी ही एक घटना 10 अगस्त 2021 में घटी है | इस चोरी में hackers द्वारा 613 मिलियन digital currency (लगभग 4550 करोड़ रूपये) के टोकन चुरा लिए गए | Digital world में यह अभी तक की सबसे बाद चोरी मानी जा रही है |

Cryptocurrency का लेखा जोखा रखने वाले Poly Network ने इस जानकारी को देते हुए बताया कि इस चोरी में Cyber Crime करने वाले Hackers ने पहले तो Poly Network को हैक किया और फिर लगभग 60 करोड़ रूपये की क्रिप्टो करेंसी चुरा ली | इस चोरी में Crypto मार्किट को पूरी तरह से हिला कर रख दिया |

Cryptocurrency ke prakar | Types of Cryptocurrency

जैसा कि आप जानते हैं कि सबसे पहली Cryptocurrency BitCoin है, इसे Satoshi Nakamoto द्वारा 2009 में launch किया गया था | इसके बाद BitCoin को competition देने के लिए और भी क्रिप्टो करेंसी को launch किया गया | लेकिन आज तक इनमे से कोई भी BitCoin को मात नही दे पाई है | अक्टूबर 2021 में इसकी value 66974 Dollar थी, यानी लगभग 50 लाख भारतीय रूपये | article लिखे जाने तक एक Bitcoin की कीमत 30 लाख भारतीय मुद्रा है | इतनी गिरावट आने के बावजूद भी बिटकॉइन आज भी नंबर 1 पर बना हुआ है |

आज BitCoin का price क्या है? जानने के लिए यहाँ click करें?

इसी वजह से इसकी popularity को देखते हुए कुछ नयी क्रिप्टो करेंसी को इजाद किया गया जिन्हें क्लोन, फोर्क्स या alt coin के नाम से भी जाना जाता है | Alt coin इसलिए कि ये Bitcoin के alternate है और Bitcoin पूरी तरह से टक्कर दे रहे हैं | साथ ही इनकी visibility भी मार्किट में लगातार बढ़ रही है | इनके नाम इस प्रकार हैं-

  • Bitcoin (BTC)
  • Binance Coin (BNB)
  • Polkadot (DOT)
  • Etherium (ETH)
  • LiteCoin (LTC)
  • Dash (DASH)
  • DogeCoin (DOGE)
  • Monero (XMR)
  • FairCoin (FAIR)
  • Ripple (XRP)
  • Cardano (ADA)
  • USDCoin (USDC)
  • Solana (SOL)
  • Tether (USDT)

इनके अलावा कुछ ऐसी क्रिप्टो करेंसी भी हैं जिन्हें India द्वारा launch किया गया है | आप चाहें तो  इनमे भी invest कर सकते हैं |

इंडिया की क्रिप्टो करेंसी कौन सी हैं?

जहाँ एक ओर सभी देशों में अपनी अपनी cryptocurrency बनाने और launch करने की होड़ लगी हुई है | वहीँ भारत जैसा विकासशील देश क्यों पीछे रहे | इसीलिए भारत में 3 क्रिप्टो करेंसी को बनाया गया है | आइये इनके बारे में बात करते हैं |

Polygon (MATIC)

साल 2009 में polygon के टोकन को trading के लिए launch किया गया | धीरे-धीरे इस क्रिप्टो करेंसी में मार्किट में अपनी जगह बना ली है और टॉप 20 digital currency की list में शामिल हो गयी है |

बीते कुछ हफ़्तों में इसमें 10% से भी ज्यादा बढ़ोत्तरी देखने को मिली है जिसका कारण है युवाओं का क्रिप्टो करेंसी के प्रति रुझान | Polygon भी एक Block-chain based क्रिप्टो करेंसी है |

CBDC (Central Bank Digital Currency)

सत्र 2022-23 के भारतीय बजट में रिज़र्व बैंक ऑफ़ India (RBI) की ओर से CBDC के प्रस्ताव को पेश किया गया है | वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इसकी घोषणा की है |हालाँकि इसे secondary assets के रूप में मान्यता मिली है | भारतीय रुपया भारत की primary currency रहेगी |

CBDC पूरी तरह से RBI की निगरानी में रहेगी और ये भी track किया जायेगा कि इसका डार्क वेब जैसे portal पर इसका दुरूपयोग ना किया जा सके |

Jio Coin

जैसा कि नाम से ही पता चलता है कि इसे JIO कंपनी की तरफ से launch किया गया है | इसे प्रतावित करने का श्रेय आकाश अम्बानी को जाता है | यह निर्णय क्रिप्टो करेंसी के भविष्य को देखते हुए लिया गया है | जिस प्रकार बिटकॉइन की trading में लोगों ने रूचि दिखाई है | उसी प्रकार जिओ कॉइन भी मार्केट में जल्दी ही अपनी जगह बनाने में कामयाब रहेगा |

Jio coin को अभी तक launch नही किया गया है | इसके लिए अभी तैयारी चल रही है | जल्द ही यह मार्केट में trading के लिए उपलब्ध हो जायेगा | इसे कब launch किया जाना है इसका खुलासा अभी तक नही किया गया है | trading के लिए इसकी मार्केट value 1 डॉलर के बराबर रही जा सकती है |

Crypto friendly banks in India | cryptocurrency में किस बैंक से trading करें?

Cryptocurrency में invest करते समय जो सबसे बड़ी समस्या आती है वो ये कि- किस बैंक account से trading करें? क्या हम किसी भी Bank account से trading कर सकते हैं? तो इसका जवाब है – नहीं |

क्रिप्टो करेंसी खरीदने या बेचने के लिए आपका खाता नीचे दिए गए बैंक की list में किसी एक बैंक में होना चाहिए | वर्ना आप cryptocurrency में trade नहीं कर पायेंगे |

Bank of India, Bank of Maharashtra, City Union Bank, CSB Bank, Deutsche Bank, Dhanlaxmi bank, Federal Bank, IDFC First Bank Limited, Indian Bank, Indian Overseas Bank, Jammu and Kashmir Bank, Karnataka bank, Karus Vysya Bank, Lakshmi Vilas Bank Net banking, Punjab National Bank (Retail and Corporate) Saraswat Bank, Tamilnad Mercentile Bank, Yes Bank.

तो दोस्तों ये थी वो list जिसमे उन सभी बैंकों को शामिल किया गया है जिनके द्वारा digital currency की trading आप आसानी से कर सकते हैं | क्रिप्टो करेंसी में trading अपने जोखिम पर करें |

Frequently asked Questions

क्रिप्टो करेंसी को हिन्दी में क्या बोला जाता है?

क्रिप्टो करेंसी एक digital currency है इसे आप online देख सकते है, खर्च कर सकते हैं, लेकिन बाकी currency की तरह छू नही सकते हैं | यह digitally online store रहती है इसलिए इसे हिन्दी में आभाषी मुद्रा कहते हैं |

Cryptocurrency meaning in Hindi?

क्रिप्टो करेंसी एक आभाषी मुद्रा है जो computer algorithm पर कार्य करती है | इसे blockchain के ज़रिये monitor किया जाता है | इसका प्रयोग वस्तुएं और सेवाएं खरीदने के लिए digital payment करने के रूप में किया जा सकता है |

सबसे सस्ती क्रिप्टो करेंसी कौन सी है?

यूँ तो मार्किट में 1800 से भी ज्यादा क्रिप्टो करेंसी उपलब्ध हैं, लेकिन जब सबसे सस्ती क्रिप्टो करेंसी की बात आती है तो कुछ क्रिप्टो करेंसी के नाम सामने आते हैं | इनको आप 10 रूपये से भी कम कीमत में खरीद सकते हैं | जैसे- BitcoinZ, Telcoin, Shiba INU, Vechain, Tron, Doggy, Dock आदि |

बिट कॉइन का मालिक कौन है?

Crypto market की सबसे महंगी करेंसी Bitcoin है जिसे सतोशी नाकामोतो द्वारा बनाया गया है | वर्तमान समय में क्रिप्टो करेंसी का कोई एक मालिक नही रह गया है | जिसके पास जितने भी Bitcoin हैं वही उनका मालिक है | क्योंकि Bitcoin के संस्थापक सतोशी नाकामोतो है इसलिए Bitcoin के जनक हमेशा ये ही रहेंगे | Bitcoin को short में BTC लिखा जाता है |

Free Bitcoin कैसे कमाएं?

वर्तमान समय में एक Bitcoin का market price लगभग 32 लाख है | इस कीमत पर भी इसे खरीद पाना हर किसी के बस की बात नही है | लेकिन आप Bitcoin कि छोटी इकाई सतोशी को free में collect करके Bitcoin बना सकते है | Free Bitcoin पाने के लिए दिए गए link पर click करें और gmail द्वारा signup करें |

Free Bitcoin कमाने के लिए यहाँ click करें |

क्या क्रिप्टो करेंसी भारत में legal है?

क्रिप्टो करेंसी में invest करके बहुत लोगों ने कम समय काफी पैसा बनाया है | इसलिए हर कोई इसमें invest करना चाहता है | लेकिन इसका प्रयोग illegal कार्यों में न हो सके और लोगों का पैसा बर्बाद ना हो इसलिए भारत सरकार इसे regulate करने का प्लान कर रही है | अभी तक इसको लेकर कोई भी विधेयक संसद में पास नही किया गया है |

विधेयक में यह नियम रखा गया है कि क्रिप्टो करेंसी primary मुद्रा नही है | यह एक digital assets है | इससे होने वाली कमी पर 30% टैक्स देना होगा | चीन जैसे देशों ने इसे बैन कर दिया है लेकिन भारत में इसे regulate करने पर अभी विचार हो रहा है | इसलिए यह वैध है भी और नही भी | इसलिए क्रिप्टो करेंसी में invest अपने जोखिम पर करें |

दोस्तों ये थी जानकारी Cryptocurrency kya hai के बारे में | इस post में हमने उन सभी बिन्दुओं पर बात की है जिनको Cryptocurrency में निवेश करने से पहले जानना चाहिए | आपको ये post कैसी लगी हमें comment करके बताएं | अगर आप के मन में क्रिप्टो करेंसी को लेकर कोई सवाल है तो वो भी आप comment section में बताएं या हमें gmail पर संपर्क करें | धन्यवाद !!

Advertisement

To Start Earning, Keep learning

We’d love to keep you updated with our latest post and offers 😎

Share with love

5 thoughts on “Cryptocurrency kya hai Hindi me bataye”

  1. My partner and I stumbled over here different website and thought I might as well check things out. I like what I see so now I’m following you. Look forward to checking out your web page repeatedly.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top