History of Microsoft Windows versions in Hindi

Computer पर काम करने के लिए कई प्रकार के Input Output devices का उपयोग किया जाता है इन सभी devices को operate करने के लिए एक SPECIAL program का सहारा लिया जाता है जिससे Operating System कहते हैं | Microsoft Windows कंप्यूटर में प्रयोग होने वाला यह एकमात्र मुख्य प्रोग्राम होता है | बाकी जो भी सॉफ्टवेयर कंप्यूटर में install किए जाते हैं उन सभी को Operating System द्वारा ही operate किया जाता है।

Operating System user और Computer के बीच मध्यस्थ का कार्य करता है जो user द्वारा दिए गए निर्दोषों को समझता है और कंप्यूटर को forward कर देता है क्योंकि कंप्यूटर सिर्फ machine language को ही समझता है |

इसलिए Operating System हमारी भाषा को machine language में convert करके कंप्यूटर को निर्देश दे देता है और कंप्यूटर से जुड़े सभी Input Output devices को निर्देशों के अनुसार कार्य करने के लिए command भेज दिए जाते हैं।

यह तो सभी जानते हैं कि पूरे विश्व में Microsoft company द्वारा बनाए गए Windows Operating System ही सबसे ज्यादा प्रयोग किए जाते हैं जो सीखने और सिखाने में बेहद आसान है ।

Microsoft Windows एक GUI (Graphical User Interface) Virtual Memory Management और Multi-tasking जैसे कई उपकरणों को support प्रदान करता है | आज किस आर्टिकल में हम जानेंगे कि Windows के कितने Versions अभी तक आ चुके हैं और उन की क्या-क्या विशेषताएँ रही।

इसके साथ ही इस आर्टिकल में यह भी जानेंगे कि कौन सा Operating System सबसे ज्यादा प्रयोग किया जाता रहा है और अभी भी Office, School, College या फिर अपने personal use के लिए  कौन-सा Operating System को use किया जाता है।

यह तो सभी जानते हैं कि कंप्यूटर का प्रयोग आजकल सभी क्षेत्रों में भारी संख्या में किया जाता है, क्योंकि यह काफी difficult task भी आसानी से करने में सक्षम है | शुरू से लेकर आज तक कभी भी Computer की Importance  कम नही हुई बल्कि दिन प्रति दिन बढती ही जा रही है |

आइए कुछ Operating System के नाम जान लेते हैं जो Microsoft कंपनी के अलावा और दूसरी कंपनी द्वारा भी बनाए गए हैं जिनमें मुख्य है : IOS, Linux, MAC OS और Windows |

तो चलिए शुरू करते हैं Microsoft कंपनी के Windows Operating System के सभी versions कौन-कौन से हैं |

Microsoft Windows operating System list

Microsoft windows kya hai 2

MS-DOS (27 July`1981)

versions of Windows की list में यह Microsoft Company द्वारा बनाया गया सबसे पहला Operating System था, जिसे एक Floppy Disk द्वारा Computer में load करके run किया जाता था | इसे 27 जुलाई 1981 में रिलीज किया गया था। यह पूरी तरह से CUI यानी Character User Interface पर based था | इस पर काम करने के लिए बहुत सारी कमांड को याद रखना पड़ता है और उन्हीं कमांड के द्वारा ही किसी Directory या File को access किया जा सकता है।

Advertisement

वर्तमान समय की तरह Operating System में किसी object को click करने की सुविधा उपलब्ध नहीं थी उस समय केवल command टाइप करके ही कंप्यूटर को निर्देश दिए जा सकते थे।

Windows 1.0 – 2.0 (20 November 1985-1992)

इसे 20 नवंबर 1985 को launch किया गया था | Microsoft company द्वारा प्रस्तुत किया गया यह Operating System पहला ऐसा Operating System था जिसने user को किसी भी object पर click करने की सुविधा प्रदान की | अब user Command type करने की बजाय Windows तक पहुंचने के लिए केवल click द्वारा computer को access कर सकता था।

1987 में Microsoft ने Windows 2.0 launch किया जिसे Intel-286 processor के लिए डिज़ाइन किया गया था | इस version में Desktop पर Icons,Keyboard Shortcut और Graphics को access करने की सुविधा थी। इस टेक्नोलॉजी का नाम GUI यानी Graphical User Interface दिया गया। इस Operating System के द्वारा अब कंप्यूटर एक साथ कई तरह के task को perform कर सकता था।

इस versions of Windows  में Computer Panel को भी शामिल किया गया जिसके द्वारा user किसी भी प्रोग्राम को Install या Uninstall कर सकता था। यह Version 1.0 की अपेक्षा ज्यादा प्रचलित हुआ, क्योंकि इसमें user Desktop और दूसरी चीजों को अपनी आवश्यकता अनुसार customize कर सकता था | यह Operating System मुख्य रूप से IMB-PC के लिए बनाया गया था |  उन दिनों 2.0 Version market में सबसे ज्यादा प्रचलित था।

Windows 3.0 – 3.1 (1990 – 1994)

Windows का यह दूसरा Version 22 मई 1990 में launch किया गया। इसमें 1.0 की अपेक्षा और ज्यादा features प्रदान किए गए, जिसमें Overlapping Windows शामिल है। इसमें एक से ज्यादा Windows टैब को ओपन किया जा सकता था और minimize भी किया जा सकता था।

इसके साथ Windows में MS-Word और MS-Excel जैसी Graphical applications को भी शामिल किया गया जिसमें text और images दोनों का प्रयोग किया जा सकता था।

Windows 3.0 को Intel-386 Processor के लिए Design किया गया, जिसमें 16 colors के साथ बेहतर Icon और Graphics के द्वारा बेहतर प्रदर्शन की अनुमति दी गई। इसी के साथ इसमें File manager Control, Print Manager, Games आदि को भी शामिल किया गया।

इसके Version 3.1 में Multi tasking Hard-disk Operating System दोनों को एक साथ शामिल किया गया अब user एक साथ कई प्रोग्राम को open करके run करा सकता था। यह संस्करण उन दिनों काफी मशहूर था और दुनिया के बहुत सारे Personal Computers में use किया जाता था। लगभग 2 वर्षों में इस Version की 10 लाख से अधिक प्रतियाँ बेची जा चुकी थी।

Windows 95 (25 August 1995)

इस Operating System को 24 अगस्त 1995 को launch किया गया था,जो अभी तक का सबसे पावरफुल Operating System था | इसको बहुत सारे बदलाव के बाद रिलीज किया गया था।

अभी तक के सभी Version 16-bit में हुआ करते थे और यह पहला Operating System था जिसे 32-bit Operating System के रूप में पेश किया गया जो 32 colors के मेलजोल से Object display कर सकता था | दूसरी तरफ यह बाकी applications को भी तेजी से चलाने में सक्षम था।

इस Microsoft windows में DOS के द्वारा Computer में Program नहीं load किया जाता था, बल्कि यह स्वयं ही रन हो जाया करता था | इसमें Plug-n-Play feature को शामिल किया गया था | बस Switch on कीजिए और आपका Computer start होना शुरू हो जाएगा और Computer की main screen यानी Desktop तक आप को लेकर जाएगा| इसके साथ ही इसमें RAM और Secondary Storage को भी बढ़ा दिया गया |

अब किसी भी फाइल या फोल्डर के नाम को 8 Character से ज्यादा character में भी लिखा जा सकता था | इसके अलावा इसमें Desktop Shortcut, Right Click, जैसे feature भी add किए गए।

Microsoft Windows`95 में taskbar को भी शामिल किया गया, जिसमें सभी खुली हुई Windows को एक साथ देखा जा सकता था। इस साल में बड़ा बदलाव यह भी था कि इसमें Internet Explorer Browser को default दिया गया |versions of Windows की list को आगे बढ़ाते हैं और जानते हैं next version के बारे में |

Windows 98 (25 June` 1998)

25 June` 1998 को रिलीज किया गया जिसमें बहुत से नए फीचर्स को add किया गया क्योंकि Windows`95 बहुत ज्यादा पॉपुलर रहा इसलिए इसमें ऐसे नहीं change किए गए जो काफी आकर्षक रहे जैसे- USB support, DVD read-write, FAT-32, AGP, Internet sharing, File sharing आदि |

वर्ष 1999 में इसका दूसरा updated Version launch किया गया लेकिन इसका नाम Windows 93 या नहीं बल्कि Windows`98 updated Version रखा गया | इसमें कुछ खास बदलाव नहीं किए गए बस Microsoft Windows 98 की कुछ प्रॉब्लम को हटा दिया गया था, लेकिन इस वर्ष भी Windows 98 ही सबसे ज्यादा पॉपुलर रहा।

Windows ME [Millennium Edition] (14 SEPTEMBER 2000)

यह Operating System 11 सितंबर 2000 को पेश किया गया था जो कि Windows 98 का नया संस्करण था। इसमें से boot-in-DOS को हटा दिया गया था | यानी के कंप्यूटर को DOS के बिना भी रन किया जा सकता था | वैसे DOS अभी तक सभी Microsoft windows में use होता है | बस उसे Run में जाकर cmd टाइप करके enter  किया जाता है, वह भी जब user चाहे तब।

हालांकि इसमें भी बहुत ज्यादा बदलाव नहीं किए गए थे फिर भी कुछ changes के साथ इसे रिलीज किया गया, जैसे- Multimedia और Internet series को update किया गया। Windows Movie Maker को add किया गया और System Restore की सुविधा भी दी गई।

फिर भी यह Version उतना प्रसिद्ध नहीं हो सका जिसका कारण था, इसके update होते ही यह सिस्टम में Bug शो करने लगता था और अक्सर स्क्रीन Freeze हो जाया करती थी जिससे इसे बार-बार refresh भी करना पड़ता था।

इसी वजह से कई बार user Windows 98 को update ही नहीं करते थे और उसी पर काम करते रहते थे क्योंकि इसकी update होते ही अक्सर सिस्टम Hang और crash होने की संभावना बनी रहती थी।

Windows NT [New Technology] (1993-1996)

यह Operating System 1993 में रिलीज किया गया इन दिनों दो Version एक साथ launch किए गए थे जो अलग-अलग क्षेत्रों के लिए Design किए गए थे |

Windows NT server: इसे किसी भी नेटवर्क में एक server के रूप में प्रयोग किया जा सकता था। यह 32-bit Operating System था और मुख्य रूप से ऐसी कॉरपोरेशन के लिए बनाया गया था जो नेटवर्क सुविधा उपलब्ध कराती थी।

Windows stand alone: इसे Client Workstations के लिए बनाया गया था जो किसी भी Firm में अकेले use किया जा सकता था। इससे सबसे बड़ा नुकसान यह हुआ कि Windows के users यानी customers अब दो भागों में अलग-अलग विभाजित हो गए थे। जिसका प्रभाव Microsoft Windows पर भी पड़ा |

पहले Microsoft और IMB की साझेदारी से Operating System को पेश किया जाता था | जिसका नाम OS/2 था। लेकिन इन दिनों अलग-अलग Operating System होने के कारण आईबीएम और Microsoft अलग हो गए और Microsoft को अपना एक नया संस्करण launch करना पड़ा, जिसका नाम Windows`NT यानी Windows New Technology रखा गया।

Windows 2000 (17 February 2000)

यह 21 वीं सदी का सबसे महत्वपूर्ण समय था जिसका Microsoft कंपनी ने पूरा लाभ उठाया क्योंकि Windows`ME और Windows NT में कंपनी हानि उठा चुकी थी और इसीलिए कंपनी ने Windows`2000 के 5 Version launch किये | जिनके द्वारा user फिर से जुड़ना शुरू हो गए और Microsoft की Market में demand फिर से बढ़ने लगी |

Windows 2000_Professional (for Desktop and Laptops)

Windows 2000_Server (for web server and Office server)

Windows 2000_Advanced server (line of Business Applications)

Windows 2000_Data center server (for High Traffic computer Networks)

Windows 2000_Small business server (for small Industries and Home edition)

Microsoft Windows 2000 में Windows`95 और Windows`98 की सभी विशेषताओं का एक साथ पेश किया गया और freeze और hang जैसी computer Bug को खत्म किया गया। इसका नतीजा यह रहा कि सभी संस्करण अपने-अपने क्षेत्र में पॉपुलर रहे |

Microsoft Windows की list में windows 2000 में खास बात यह भी रही कि अभी तक कंप्यूटर और परेड जगत के बीच ही famous था लेकिन इन दिनों Computer, personal use में भी प्रयोग होने लगा और घर-घर पहुंचने लगा जिससे इसकी लोकप्रियता और बढ़ती चली गई। चलिए आगे बढ़ते है और जानते हैं Microsoft windows कि अगली सीरीज के बारे में |

Windows XP [Experience]  (25` October 2001)

सन 2001 में Windows के सबसे ज्यादा चर्चित और प्रयोग किए जाने वाले Version को पेश किया गया जिसने पूरी मार्केट को ही बदल कर रख दिया | Windows की user और कॉरपोरेट user एक साथ हो गए | यानी दोनों जगहों पर Windows`XP समान रूप से प्रयोग किया जाने लगा | इसमें अभी तक के famous Windows Version की सभी विशेषताओं को शामिल किया गया था, जैसे-Windows`95, Windows`98 और Windows`NT ।

यह Operating System 32-bit Operations को perform करने में पूरी तरह सक्षम था और user को एक नया Interface प्रस्तुत करता था। Booting-Time को भी कम किया गया जिससे सिस्टम जल्दी Start हो सके इसके दो संस्करण मार्केट में उपलब्ध किए गए Windows`XP_Home Edition और Windows`XP_Professional

Microsoft Windows के अभी तक launch किये गए सभी Version of windows  में सबसे ज्यादा पॉपुलर Windows`XP ही था और यह आश्चर्य की बात नहीं कि आज भी लगभग 20 साल बाद भी Windows`XP बहुत से कंप्यूटर में use किया जाता है और बेहद अच्छी परफॉर्मेंस देता है।

इसके साथ इसमें plug-n-play की सुविधा भी दी गई | user एक से ज्यादा users अकाउंट बनाकर कंप्यूटर को use कर सकते थे | यानी Multiple user account |  जरूरत ना होने पर another user accounts को remove भी किया जा सकता था |

Windows`XP को प्रत्येक क्षेत्र में use किया जा सके इसके लिए और भी कई Version प्रस्तुत किए गए जैसे-

Windows`XP_Media center,

Windows`XP_Tablet PC,

Windows `XP_starter

इन सभी Version को विकसित और विकासशील देशों के लिए बनाया गया था | इसके अलावा इसे तेज गति के साथ user account switching की सुविधा भी प्रदान की गई और animation tool भी इसमें शामिल किए गए।

Windows Vista (30 November 2006)

Windows Windows की list में 2006 में Windows का एक और Version रिलीज हुआ जो Windows`XP का ही updated Version था। Windows`XP को बहुत ज्यादा पसंद किया गया था, इसलिए Windows Vista को पॉपुलर होने में ज्यादा परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा | Windows`XP की Reliability, Security, Performance और Manageability ने Windows Vista का रास्ता साफ कर दिया था |

Windows Vista सभी hardware पर समान रूप से तेजी से कार्य करने में सक्षम था | इसमें Desktop Configuration Management और System upgrade करने की कम आवश्यकता पड़ती थी। इसी के साथ इसमें बिजली की खपत भी कम होती थी और यह hardware में आने वाली समस्याओं के बारे में पहले ही सूचित कर देता था।

पहली बार इसमें 3D Effect को शामिल किया गया | इसको चलाने के लिए updated और हाई graphics की आवश्यकता पड़ती थी। Icon और Folder के भीतर का content बाहर ही thumbnail के रूप में दिखाई दे दिया जाने लगा |

Windows 7 (22 October 2009)

Microsoft windows कि श्रेणी में विंडोज 7 सबसे विशेष रहा | इससे  2009 में उन सभी Bug को दूर किया गया जिनके  कारण Windows Vista popular नही हो पाया | इसके ज्यादातर सभी features को बदल दिया गया | Window और Massage box,Dialogue Box  के साइज़ को आसानी से छोटा या बड़ा किया जा सकता था | इसके साथ इसमें कौन सा device पहले boot करना है, इसे भी आसानी customize किया जा सकता था | 

Windows 7 में सभी qualities Windows`XP की ही थी | बस कुछ मौजूदा changes के साथ इसमें कुछ नए features को शामिल कर दिया गया, जैसे- Multi touch support, Inter Explorer 8, Short start-up time, Aero Snap, Virtual hard disk support, और Media center |

Microsoft Windows की list में windows 7 में बदलाव होने के साथ साथ इसका साइज़ भी Windows`XP की अपेक्षा कई गुना ज्यादा बढ़ गया जिससे computer में और अधिक space की आवश्यकता पड़ने लगी | जहाँ एक ओर Windows`XP का total size 700-800 MB तक होता था, वहीँ दूसरी ओर Windows 7 का total size लगभग 4GB तक बढ़ गया | अच्छी performance के लिए Windows 7 को 64 bit version में Install किया जाने लगा |

Windows 7 भी आज के समय में भी काफी use किया जाता है जबकि इसे launch हुए लगभग 11 बीत चुके हैं | Windows 7 की performance और Speed बहुत अच्छी मानी जाती है |अभी तक के versions of windows में सबसे ज्यादा उसे किया जाने वाला version windows 7 ही माना है

Windows 8 (01 August 2012)

2012 में launch किये गए इस Operating System को पूरी तरह से change कर दिया गया | इसकी विशेषता यह रही कि यह start होने में मिनटों के बजाय seconds ही लेता है और बहुत जल्दी user को मुख्य screen desktop तक पहुँचा देता है | इसका interface पूरी तरह से बदला हुआ नज़र आता है | Microsoft Windows का start button तो है ही, साथ ही इसमें icons और files, folders एक Live tiles के रूप के तैरते नज़र आते है तो लगातार बदलते रहते हैं |

यह 86-bit colors और ARM processor को पूरी तरह support करता है | इसी के साथ काफी devices में touch screen द्वारा Windows को operate करने की सुविधा दी गई है |  

Windows 10 (29 July 2015)

यह Windows का सबसे latest version है इसके बाद अभी तक (इस लेख के लिखे जाने तक)और कोई version release नही किया गया है | इसे Windows 8.1 को upgrade करके भी प्राप्त किया जा सकता है | इसे 29 जुलाई 2015 को launch किया गया था | जिसमे बहुत सी विशेषताओं को शामिल किया गया है | इसमें inbuilt security और start menu button को फिर से add किया गया है जो windows 8.1 में हटा दिया गया था |

Microsoft Windows की list में Windows`10 में inbuilt Microsoft Edge को by default दिया गया है | वैसे इसमें Internet Explorer को भी दिया गया है जिसे user अपने हिसाब से default browser के रूप में use कर सकता है |

Windows`10 में Cortana voice assistant को भी default दिया गया है जिससे आप कोई भी सवाल करके जवाब पा सकते हैं | यह ठीक वैसे ही कार्य करता है जैसे Google assistant कार्य करता है |

Download Windows 10 click here for fast download

Windows 10 operating system requirements

Windows 10 को चलाने के लिए Minimum 1GHZ processor या उससे अधिक 32 या 64 bit Processor की आवश्यकता होती है। RAM की बात करें तो इसमें कम से कम 1GB RAM या उससे अधिक GB की RAM लगा सकते हैं और Secondary Storage के लिए कम से कम 16GB की Hard drive की आवश्यकता पड़ती है। इसके अलावा Graphics Device में WDDM 1.0 या  उससे उच्च श्रेणी का Graphic card use किया जा सकता है।

Conclusion (निष्कर्ष)

Microsoft Windows operating system ऐसा OS है जिसे पूरे world में सबसे ज्यादा use किया जाता है | बीते पिछले 5 वर्षों में Windows का कोई और नया operating System launch नहीं किया है | आपने देखा होगा कि Microsoft Windows 8 के बाद Windows 10 को रिलीज किया गया था | Windows 9 नाम का कोई भी ऑपरेटिंग सिस्टम Launch नहीं किया गया |

आने वाले समय में Microsoft Windows का कौन सा version launch किया जाएगा, इसके बारे में कोई पूर्ण तथ्य नहीं है | लेकिन ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि Windows`10 के बाद Windows`11 को launch किया जा सकता है जिसमें Windows 10 जैसी ही और नई विशेषताओं को शामिल किया जाएगा जो और भी बेहतर तरीके से प्रदर्शन करेगा और ज्यादा तेजी से कार्य करेगा।

दोस्तों यह पोस्ट थी Microsoft Windows के अब तक launch किए गए सभी ऑपरेटिंग सिस्टम के बारे में जिसमें हमने कोशिश की, कि सभी operating system के बारे में जानकारी दी जा सके। आपको हमारी यह पोस्ट कैसी लगी हमें comment बॉक्स में ज़रूर बताइए और अगर आपको कहीं लगता है कि इसमें कुछ और भी add किया जाना चाहिए था तो वह भी आप comment बॉक्स में बता सकते हैं हम आगे भी इसी तरह की पोस्ट आपके लिए लाते रहेंगे धन्यवाद!!

Advertisement

To Start Earning, Keep learning

We’d love to keep you updated with our latest post and offers 😎

Share with love

2 thoughts on “History of Microsoft Windows versions in Hindi”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top