Network marketing kya hai | नेटवर्क मार्केटिग की पूरी सच्चाई

नेटवर्क मार्केटिंग क्या है आज के समय सबसे ज्वलंत विषय है, जिस पर बात तो हर कोई करना चाहता है, लेकिन नेटवर्क मार्केटिंग को करने में सभी के मन में एक संकोच सा उत्पन्न हो जाता है |

आज के इस article में हम इस विषय से पर्दा उठाने वाले हैं कि Network marketing kya hai और नेटवर्क मार्केटिंग करना चाहिए या नहीं। क्या यह वाकई इतना शानदार है जितना बताया जाता है या जो market में इसके बारे में अफवाहें फैली हुई हैं वो सच हैं?

Digital marketing क्या है? यह कितने प्रकार की होती है?

Network marketing एक ऐसा business process है, जिसका नाम लेते ही लोग इसके बारे में तुरंत नकारात्मक रुख अपना लेते हैं | लोग इसका सही पहलू कभी भी देखने की कोशिश ही नहीं करते, बस में उसी को सच मान लेते हैं, जो अफवाहों में उन्हें बताया गया है |

Advertisement

तो आखिर क्या वजह है कि लोग नेटवर्क मार्केटिंग बारे में बात ही नहीं करना चाहते हैं आइए इस पोस्ट के माध्यम से समझते हैं कि…

Network marketing kya hai | नेटवर्क मार्केटिंग की परिभाषा

Content in One View

Network marketing kya hai 2

किसी भी प्रोडक्ट या सर्विस को प्रमोट करने का तरीका मार्केटिंग कहलाता है और जब इस प्रोसेस को एक नेटवर्क के जरिए किया जाता है तो इसे Network marketing कहते हैं। Network marketing को डायरेक्ट सेलिंग का updated version कहा जाये तो गलत नही होगा, क्योंकि इसमें के product सीधे कस्टमर को दिया जाता है |

MLM kya hai

MLM यानी Multi level marketing। वह प्रोसेस जिसमें हर एक कस्टमर या कंजूमर को यह अधिकार मिलता है कि वह डायरेक्ट प्रोडक्ट सेल कर सकता है और अपने down में और नए डिस्ट्रीब्यूटर यानी कंजूमर को जोड़कर सेल को प्रमोट कर सकता है तो यह MLM कहा जाता है। MLM की खास बात यह भी होती है कि इसमें आपके डाउन में होने वाली सभी सेल का benefit आपको भी मिलता है।

Direct selling kya hai और इसका future कैसा है

Direct selling किसे कहते हैं?

जब किसी प्रोडक्ट या सर्विस को सीधे ग्राहकों तक पहुंचाया जाता है, तो यह डायरेक्ट सेल होता है ऑनलाइन प्रोडक्ट सेल भी एक प्रकार का डायरेक्ट सेल ही है जिसमें कस्टमर सीधे कंपनी से प्रोडक्ट खरीदता है।

नेटवर्क मार्केटिंग MLM और Direct selling का great combination है जो एक नेटवर्क के ज़रिये किया जाता है। चलिए जब Network marketing की बात चली रही तो इसके बारे में थोड़ा और गहराई से जानते हैं।

Network marketing की शुरुआत कैसे हुई।

नेटवर्क मार्केटिंग की शुरुआत सबसे पहले 1886 में AVON company ने की। नेटवर्क मार्केटिंग का concept इस कंपनी को एक महिला ने दिया था- जिसका नाम है PFE ALBEE.

इसके बाद में धीरे-धीरे नेटवर्क मार्केटिंग चलन में आना शुरू हुई । 1946 में इस concept को अमरीकी सरकार द्वारा मान्यता दे दी गई, क्योंकि यह concept रोजगार देने के साथ-साथ लोगों को आर्थिक स्वतंत्रता, अधिक आमदनी, ज्यादा खाली समय, दूसरों की मदद करना जैसी सुविधाएं भी देने लगा ।

आपको जानकर आश्चर्य होगा कि भारत जैसे देश में, जिस की जनसंख्या 140,42,38,472 (140 करोड़ ) से भी अधिक है और 140 करोड़ में से एक करोड़ लोग भी इस बिजनेस में नहीं है।

क्या आप जानते हैं कि ऐसा क्यों है? क्योंकि हमारे समाज में नेटवर्क मार्केटिंग को सही नजर से नहीं देखा जाता है | क्या कारण है कि लोग बेरोजगार रहना पसंद करते हैं, लेकिन नेटवर्क मार्केटिंग नहीं करना चाहते |

आइए इसे और गहराई से समझते हैं और उन कारणों को जानने का प्रयास करते हैं जिसकी वजह से लोग नेटवर्क मार्केटिंग से दूर भागते हैं।

नेटवर्क मार्केटिंग ना करने के कारण कौन से हैं?

नेटवर्क मार्केटिंग एक ऐसा शब्द है जिसे सुनते ही लोग भागने लगते हैं, आप उनसे इसके बारे में बात करना चाहेंगे, लेकिन जैसे ही आप नेटवर्क मार्केटिंग के नाम लेते हैं, लोग आपका फोन तक उठाना बंद कर देते हैं, भले ही उनमें आपका सबसे अच्छा दोस्त ही क्यों ना हो।

उनका मानना यह होता है कि आपन उन्हें किसी स्कीम में फंसा रहे हैं, जबकि ऐसा होता नहीं है | आप अच्छी चीज के बारे में सही जानकारी शेयर करना चाहते हैं, लेकिन लोग सुनना नहीं चाहते | क्या आप जानना चाहते हैं कि ऐसा क्यों होता है?

पहला कारण

बीते कुछ वर्षों में कुछ ऐसी कंपनियां मार्केट में सक्रिय रही, जिनका मकसद केवल एक योजना बेचना था | उन्होंने लोगों को लालच दिया कि आप कुछ नहीं करना, बस आप ₹1,00,000 जमा कीजिये और हर महीने ₹10,000 से ₹15,000 पाए वह भी बिना कोई काम किए।

अब यहाँ पर पर गलती उस कंपनी की नहीं थी जो यह कच्चा लालच दे रही थी | बल्कि गलती उन छोटी मानसिकता वाले लोगों की थी, जो बिना कोई काम किये लाखों रुपए कमाने का सपना देखने लगते हैं। आपने क्यों ध्यान नहीं दिया, क्यों पूरी जानकारी नहीं ली |

ये लोग कभी भी इस बात पर विचार नहीं करते कि दुनिया में बिना कोई काम किए पैसा नहीं मिलता तो फिर यहां तो बात लाखों की हो रही थी। बस फिर क्या था आ गए लालच में और उसके बाद क्या क्या हुआ यह तो आप सभी को पता ही है।

दोस्तों यही मूल कारण है कि लोग आपकी बात नहीं सुनते हैं, अब सही नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी भी उन्हें वही झोलझाल लगता है। MLM किसी भी प्रकार से गलत नहीं है नेटवर्क मार्केटिंग को सही से समझने की आवश्यकता है चलिए आगे बढ़ते हैं और जानते हैं दूसरा कारण।

दूसरा कारण

नेटवर्क मार्केटिंग के बारे में गलत जानकारी फैलाने वाले दूसरे वे लोग है जो network marketing join तो कर लेते हैं, लेकिन इसे मामूली बिजनेस समझकर मेहनत से काम नहीं करते | किसी तरह अपने up-line के साथ दो लोगों को join तो करा लेते हैं लेकिन उन्हें आगे बढ़ने में सपोर्ट नहीं करते |

कुछ लोग खुद प्रोडक्ट लेकर ही बैठ जाते हैं, आगे किसी और को promote नही करते और ये business पूरी तरह products को promote करने का ही है |

डायरेक्ट सेलिंग से जुड़े आंकड़े देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

ज्यादातर लोग Network marketing को ना तो पूरी तरह खुद सीखते हैं, और ना ही किसी को सिखाते हैं, ना ही regularly meeting attend करते हैं ना ही कोई seminar.

इसीलिए उनका ज्ञान सीमित रह जाता है जिसके कारण वे इसके बारे में ठीक से किसी से बात भी नहीं कर पाते और फिर शुरू होता है कच्ची-पक्की बातों का सिलसिला।

अब ये ऐसे लोगों से सलाह लेने लगते हैं जो इस बिजनेस में फेल हो गए या वे लोग जिनको network marketing के बारे में कुछ पता ही नही है | क्यों फेल हुए, यह जानने की कोशिश नहीं करते यह आसानी से मान लेते हैं कि इसमें कुछ नहीं होता हमारा तो कुछ हुआ ही नहीं टीम तो बनी ही नहीं अब पैसा कहां से आएगा।

जो लाखों करोड़ों का सपना देख कर वह इस business में आते है वह बिना मेहनत किये मिलता ही नही, क्योंकि सही तरीके से मेहनत नहीं की जाती | बस अब Network marketing की जी भर के बुराई चालू।

लोग नेटवर्क मार्केटिंग को क्यों पसंद नहीं करते हैं

Network marketing kya hai 3

दोस्तों मैं आप को दिल से कहना चाहता हूं कि नेटवर्क मार्केटिंग दुनिया का सबसे best business है और सबसे best process भी है goods & services को promote करने का। इसके बावजूद लोग Network marketing करना पसंद नहीं करते हैं |

क्या आप जानना चाहते हैं क्यों? यदि हां… तो आगे बढ़े।

Network marketing ना करने के मुख्य दो कारण होते हैं डर और भ्रम। अब इन दोनों के बारे में समझते हैं पहले डर के बारे में बात करते हैं, क्योंकि किसी भी काम की शुरुआत के समय सबसे पहले हमारा डर ही हमें उस काम को करने से रोकने लगता है।

नेटवर्क मार्केटिंग के मुख्य डर | Fears of Network Marketing

“मेरा पैसा डूब जाएगा”

यह सबसे पहला और मुख्य डर है, क्योंकि नेटवर्क मार्केटिंग की शुरुआत करने की सोचते ही मन में ये ख्याल आने लगता है कि कहीं मेरा पैसा डूब ना जाए । पहली बात तो यह कि नेटवर्क मार्केटिंग की शुरुआत करने के लिए बहुत बड़ी इन्वेस्टमेंट की जरूरत नहीं होती है |

दूसरी बात यह कि इसमें ज्वाइन करने का जो पैसा हम देते हैं उतने का ही हमें प्रोडक्ट दे दिया जाता है | इससे हमारा investment ही zero हो जाता है |

तीसरी बात कि हमे कंपनी से life-time 15-20% की अतिरिक्त छूट मिलने लगती है जिससे हमारा पैसा भी बचने लगता है | वैसे भी हम कहीं न कहीं से सामान खरीदते ही हैं तो क्यों ना यहां खरीद लें |

चौथी सबसे बड़ी बात कंपनी की जो सेमिनार और ट्रेनिंग होती है, वह भी बिल्कुल फ्री में मिलती है | तो पैसा डूबने का डर है ही नहीं | अगर आपको यह तीन चीजें नहीं मिल रही है, तो यह Network marketing नहीं है।

“लोग मजाक उड़ाएंगे”

यह भी एक बड़ा डर है जो हमें नेटवर्क मार्केटिंग करने से रोकता है | जैसा कि आप जानते हैं कि इंडिया में भी नेटवर्क मार्केटिंग के अच्छे नजरिए से नहीं देखा जाता है | तो हमें यह डर लगने लगता है कि पड़ोसी या रिश्तेदार मजाक उड़ाएंगे कि- “तू भी फंस गया इस काम में” | “डूबा दिया पैसा |”

इन कंपनियों का तो काम ही पैसा लूटना है | ऐसे कुटीले शब्दों से आपको हतोत्साहित कर देते हैं | थोड़े ही समय में हमें यह लगने लगता है कि ये काम हमसे नही होगा, हमारा पैसा फंस चुका है।

लेकिन कंपनी में ट्रेनिंग और सेमिनार में हमें इन सब से कैसे निपटना है, सिखाया जाता है | जब हम चीजें सीखने लगते हैं, तो हमें मजाक उड़ने का डर नहीं रहता है | यानी कि ट्रेनिंग मैं उन सभी डर को दूर कर दिया जाता है जिसकी वजह से लोग Network marketing को करने से मना करते हैं।

“सफलता मिलने में लंबा वक्त लगता है”

जी हां नेटवर्क मार्केटिंग में सफल होने के लिए समय तो लगता ही है और अगर आसानी से सब मिल जाए तो उसकी वैल्यू भी नहीं रहती।

नेटवर्क मार्केटिंग में कम से कम 3-5 वर्षों में आपको सफलता तो 100% मिलेगी ही | साथ ही आपके व्यक्तित्व में जो निखार आएगा, वह आपकी सफलता को 200 गुना बढ़ा देगा।

लेकिन अफसोस ज्यादातर joiner 3 से 6 महीने में ही नेटवर्क मार्केटिंग को bye-bye बोल देते हैं और फिर से 15-20 हज़ार की जॉब में खुद को settle करने की कोशिश करने लगते हैं।

दोस्तों आपको याद रखना चाहिए कि सफलता बलिदान मांगती है, आप के समय का, आपकी मेहनत का, आपके समर्पण का, जो सभी लोग नहीं दे पाते हैं, और कम समय में ही Network marketing को छोड़ देते हैं।

“MLM का नाम खराब है”

कुछ वर्षों से मार्केट में ऐसी कंपनियां आती रही है जिनका मकसद लोगों से पैसा लूटना था | उन्होंने same binary system को अपनाया और लोगों को रातों-रात करोड़पति बनाने का लालच दिया।

अब यहां पर एक बहुत बड़े टॉपिक की शुरुआत होती है जिसके बारे में हम किसी और article में बात करेंगे | अब थोड़ा मोटा-मोटा जान लेते हैं |

होता क्या है कि लोगों की मानसिकता ही ऐसी हो गई है कि बिना कुछ किए घर बैठे करोड़पति कैसे बने? और इसी मानसिकता का फायदा कुछ फ्रॉड कंपनियां उठाती हैं और आपको लालच देकर लाखों रुपया invest करवा लेती हैं |

अब इंसान ठहरा लालची, आ गया लालच में और इसी तरह लोग से पैसा लेकर कुछ ही महीने बाद कंपनी और उसके मैनेजर गायब |

तो दोस्तों यह थे Network marketing से जुड़े लोगों के मुख्य डर अगर इनके अलावा आपके पास कोई और डर है तो comment section में जरूर लिखें और उसका समाधान करने की कोशिश करेंगे। अब बात करते हैं नेटवर्क मार्केटिंग से जुड़े कुछ भ्रम के बारे में |

नेटवर्क मार्केटिंग के मुख्य भ्रम | Myths of Network marketing

Network marketing के बारे में भ्रम इस वजह से भी पैदा होते हैं कि लोगों के पास नेटवर्क मार्केटिंग को लेकर knowledge कम होती है और information ज्यादा होती है। किसी भी भ्रम को सुनकर लोग उसके बारे में नॉलेज नहीं लेते बल्कि information लेना पसंद करते हैं |

वह भी ऐसे लोगों से जिन्होंने या तो अपना पैसा किसी फ्रॉड कंपनी में गँवा दिया या नेटवर्क मार्केटिंग में फेल हो गए या फिर ऐसे लोगों से सलाह लेते हैं, जिनको नेटवर्क मार्केटिंग मार्केटिंग के बारे में कुछ पता ही नहीं।

अब आप खुद सोचिए कि अगर आपके पेट में बहुत तेज दर्द है तो आप किसके पास जाएंगे डॉक्टर के या वकील के? जाहिर है डॉक्टर के। लेकिन नेटवर्क मार्केटिंग के केस में लोग सलाह लेने वकील (negative लोगों के पास) के पास जाते हैं और information लेकर आते हैं।

“ऐसी बहुत सी कंपनी आई और गई”

आज के समय में यह सबसे ज्यादा भ्रम फैला हुआ है कि ऐसी कंपनियां तो आती-जाती रहती हैं | इनका मकसद लोगों से पैसा लेना होता है, यह भी ऐसी ही है।

मैं समझता हूं कि कुछ कंपनियां ऐसी होती हैं जिन का रवैया बहुत गलत होता है | कई बार ऐसी कंपनी पैसा डबल करने का लालच देती है जिसमें लोग फंस जाते हैं और अपना पैसा गांव बैठते हैं।

ऐसी स्थिति में वे कंपनियां पीछे रहे थे, जो असली है और जिन का मक़सद सच में लोगों को ऐसा platform देना होता है जहां से लोग अपना भविष्य बना सकते हैं, वह भी सिर्फ 10-15 हज़ार  की investment करके।

लेकिन ऐसी नेटवर्क मार्केटिंग कम्पनियां जरूर सफल होती है जिनका प्रोडक्ट बहुत दमदार होता है जहां पर लोगों का रवैया बहुत ही मिलनसार और सकारात्मक होता है | यहां पर ट्रेनिंग और सेमिनार के जरिए लोगों को नेटवर्क मार्केटिंग में दिग्गज बनना सिखाया जाता है।

दूसरा महत्वपूर्ण कारण जो लोग network marketing में फेल हो जाते हैं या जो ठेक से काम नही कर पाते हैं वो उल्टा कंपनी को ही दोष देने लगते हैं | इसकी इतनी निंदा करते हैं कि लोगों में negativity और ज़्यादा फैलने लगती है और लोग इसके बारे में सुनना ही पसंद नहीं करते।

मान लीजिए आप ने join तो कर लिया अब आप इसे आगे प्रमोट नहीं कर रहे हैं और सोचते हैं कि यार पैसा तो हो नहीं रहा, लगता है यह कंपनी ही खराब है।

ऐसी स्थिति में अगर कोई आप से पूछ ले कि आपकी नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी का क्या होगा और जवाब में सिर्फ यही कहेंगे कि क्या बताऊं वह कंपनी खराब थी, छोड़कर भाग गई। क्या आपको लगता है यहां पर वाकई कंपनी का ही दोष है?

“पैसा डूब गया तो क्या होगा”

इस दुनिया में हर कोई ढेर सारा पैसा तो कमाना चाहता है लेकिन उसे कमाने के लिए ना कि तो कोई investment करना चाहता है और ना ही समय देना चाहता है | लेकिन पैसा लाखों रुपए महीना आना चाहिए। क्या ऐसा होना संभव है?

आपको बता देना चाहता हूं कि Network marketing से जुड़ने के लिए बहुत बड़े investment की आवश्यकता नहीं होती | आप ₹10000 से ₹15000 में इसे बड़े अच्छे से चला सकते हैं | साथ ही जितने का आप इन्वेस्ट करते हैं उतने का ही कंपनी आपको प्रोडक्ट दे देती है।

अगर ध्यान से सोचा जाए, हमारा कोई पैसा इन्वेस्ट हुआ ही नहीं | हमने पैसा देकर product खरीद लिया, हिसाब बराबर | तो पैसा डूबने का डर क्यों ? प्रोडक्ट देने के बाद भी कंपनियों लोगों को खाली नहीं जाने देती | आपको अपना सदस्य बनाती हैं और आप को ये अधिकार देती है कि आप हमारा प्रोडक्ट promote करो तो आपको अच्छा कमीशन हमेशा मिलता रहेगा।

इसके अलावा यह अधिकार यह भी देती है कि आप हमारे प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए अपनी टीम में बना सकते हैं | तो बताइए कहीं डूबा है आप पैसा आपका । जब पैसा लगाया ही नही तो डूबेगा क्यों |

दरअसल लोगों का ध्यान उस पैसे पर होता है, जिससे नेटवर्क मार्केटिंग product ख़रीदा जाता है | जबकि ध्यान उस पैसे पर होना चाहिए जो पैसा को यहां से कमा सकते हैं और एक टीम बना सकते हैं एक टीम की पावर क्या होती है, लोगों को यह समझना चाहिए।

“मुझसे कोई नहीं जुड़ेगा”

यह भ्रम भी है और डर भी | आमतौर पर यह डर तब उत्पन्न होता जो नेटवर्क मार्केटिंग नए होते हैं और हमें नेटवर्क मार्केटिंग के कम जानकारी होती है | डर लगता है कि पता नहीं जिन्हें हम नेटवर्क मार्केटिंग बताएंगे, वो हम से जुड़ेंगे या नहीं। ऐसा क्यों होता है?

एक ही मुख्य कारण है कि हमें Network marketing की पूरी जानकारी नहीं है | इसके लिए हमे बहुत सी चीजें सीखनी पड़ती है जैसे-

  • लोगों की लिस्ट बनाना
  • लोगों से बात करना
  • लोगों को invite करना
  • Plan दिखाना
  • Follow-up करना
  • Sale close करना

ऊपर बताई गई सभी बातें हमें ट्रेनिंग और सेमिनार के जरिए हमें सिखाई जाती हैं | Audio, Video और books के माध्यम से हम बहुत कुछ सीखते हैं जो हमें हमारे मन के सभी डर और भ्रम को दूर करने में मदद करती हैं।

जब हम सभी बारीकियों को सीख जाते हैं तो लोग हमें सुनते भी हैं, जुड़ते भी हैं और हमारा बिजनेस build करने में सहायक भी बनते हैं।

“इसमें सेल्समैन की तरह भटकना पड़ता है”

Network marketing के बारे में कुछ लोगों के मन में यह भ्रम भी रहता है कि हमें घर-घर सामान बेचना पड़ेगा | बहुत सा सामान भी खरीदना पड़ेगा और इसमें एक सेल्समैन की तरह सामान साथ में रखना पड़ेगा ।

आपको बता देना चाहता हूं कि नेटवर्क मार्केटिंग में ऐसा कुछ भी नहीं होता है | हमें घर घर जाकर नहीं बेचना पड़ता | हमें कुछ चुनिंदा लोगों से मिलना होता है और कंपनी के प्रोडक्ट के बारे में सही और सच्ची knowledge देनी होती है बस।

चीजों को समझने के बाद जब prospect agree हो जाते हैं तो उनकी मर्जी का सामान पैसे लेकर दे दिया जाता है । किसी भी प्रकार के सामान का stock नहीं रखना पड़ता। यहां पर डायरेक्ट सेलिंग काम करता है जिसमें प्रोडक्ट सीधे ग्राहक तक पहुंचाया जाता है।

“इसे सिर्फ बेरोजगार लोग ही करते हैं”

Network marketing में आपको ऐसे भी लोग मिलेंगे जो अपनी जॉब या बिजनेस से लाखों रुपए कमा रहे थे फिर भी उन्होंने नेटवर्क मार्केटिंग join किया | network marketing में डॉक्टर, इंजीनियर, ग्रेजुएट, यहां तक की IAS ऑफिसर तक शामिल हैं।

Network marketing में पैसा तो बहुत होता ही है, इसके अलावा समय की आजादी, पैसे की आजादी, सम्मान, दूसरों की मदद करना आदि बहुत सी अतुलनीय सुविधाएं भी होती है, जो किसी भी जॉब या बिजनेस में एक साथ संभव नहीं है।

दूसरी बात बेरोजगार लोगों को तो यह बिजनेस जरूर करना चाहिए क्योंकि इन लोगों के लिए यह एक सुनहरा अवसर है | जो लोग कम पढ़े-लिखे होने कारण job नहीं कर पा रहे हैं | या जो लोग थोड़े शर्मीले स्वभाव के कारण इंटरव्यू पास नहीं कर पाते या वे, जो दूसरे की मदद करना चाहते हैं या जो लोग अपनी फैमिली के साथ अधिक से अधिक समय बिताना चाहते हैं |

यह बिजनेस से जुड़े लोगों को भी सभी मूलभूत सुविधाएं एक साथ देता है जिन्हें पाने के लिए लोग अपनी पूरी जिंदगी लगा देते हैं | अगर हमें अपनी जिंदगी में परिवर्तन लाना है तो डर और भ्रम को बहुत पीछे छोड़ना पड़ेगा |

नेटवर्क मार्केटिंग बुरा नहीं है | बस लोगों में अपनी भ्रम में इसे बुरा मान लिया है और ऐसे भ्रम को दूर करना कर ही देना चाहिए जो हमें आगे बढ़ने से रोकते हों ।

आप नेटवर्क मार्केटिंग में पैसा नहीं कमा सकते

जी हां आपने सही पढ़ा है, आप Network marketing में पैसा नहीं कमा सकते हैं, अगर आप यह गलतियां करते हैं तो।

जिस प्रकार किसी business या संस्था को चलाने के कुछ नियम होते हैं, जिससे अपना बिजनेस आगे बढ़ाया जा सकता है | ठीक उसी प्रकार नेटवर्क मार्केटिंग के भी कुछ नियम होते हैं जो नेटवर्किंग बिजनेस को आगे बढ़ाते हैं। आइए जानते हैं उन नियमों को जिन्हें अगर आप नजर-अंदाज करते हैं तो नेटवर्क मार्केट में फेल हो सकते हैं।

  • Prospecting list पर काम ना करना |
  • Follow-up जैसे महत्वपूर्ण step को नजरअंदाज करना
  • प्लान दिखाने से पहले यह सोचना कि यह आदमी join करेगा या नहीं।
  • बिना आंकड़ों के प्लान प्रस्तुत करना।
  • काम करने के बजाय सिर्फ पैसों के बारे में सोचना |
  • अपने अपलाइन की गाइडलाइंस को ना मानना |
  • इस भ्रम में जीना कि हमने सब कुछ सीख लिया है।
  • आगे आने वाले कल का schedule आज ना बनाना।
  • रोजाना motivational books ना पढ़ना |
  • जो आपने सीखा उसे अपने डाउनलाइन को ना सिखाना |
  • time-Leveraging के महत्व को ना समझना।

निष्कर्ष (Conclusion)

दोस्तों ! आज आपने network marketing की बहुत सी बातों को सीखा | बहुत से भ्रम और डर के बारे में हमने जाना | network marketing हमे क्यों करना चाहिए और हम इसमें फेल क्यों होते हैं कैसे हमे सफल होना है आदि चीज़ों को सीखा |

उम्मीद करता हूँ कि आपके मन से बहुत से भ्रम दूर हो गए होंगे | हर बार वह सच नही होता जो हमारे आस-पास के नकारात्मक लोग बताते है | अगर network marketing को सही ढंग से और लगातार किया जाये तो यह business लोगों का भविष्य बदलने की क्षमता रखता है |

आपको ये आर्टिकल network marketing kya hai कैसा लगा | हमे comment के ज़रिये बताएं | खुश रहिये और पढ़ते रहिये itechshala | Thank You

Advertisement

To Start Earning, Keep learning

We’d love to keep you updated with our latest post and offers 😎

Share with love

11 thoughts on “Network marketing kya hai | नेटवर्क मार्केटिग की पूरी सच्चाई”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top